बिहार में आचार संहिता लागू; आचार संहिता के दौरान ये रहेंगे नियम-कानून….

बिहार चुनाव की तारीखों की घोषणा हो गई है। इसके साथ ही, प्रदेश के सभी जिलों में आचार संहिता लागू हो गई है।

चुनाव आचार संहिता क्या होती है?

देश में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए चुनाव आयोग कुछ नियम बनाता है। चुनाव आयोग के इन्हीं नियमों को आदर्श आचार संहिता कहते हैं। लोकसभा/विधानसभा चुनाव के दौरान उन नियमों का पालन करना सरकार, नेता और राजनीतिक दलों की जिम्मेदारी होती है।

कब से कब तक लागू रहती है-

आदर्श आचार संहिता चुनाव की तारीख की घोषणा के साथ ही लागू हो जाती है और वोटों की गिनती होने तक जारी रहती है।

आचार संहिता के नियम क्या हैं?

आचार संहिता लागू होने के बाद सार्वजनिक धन का इस्तेमाल किसी भी ऐसे आयोजन में नहीं किया जा सकता, जिससे किसी दल विशेष को फायदा पहुंचता हो।आचार संहिता लगने के बाद किसी भी तरह की सरकारी घोषणाएं, लोकार्पण, शिलान्यास या भूमिपूजन के कार्यक्रम नहीं किए जा सकते हैं।सरकारी गाड़ी, सरकारी विमान या सरकारी बंगले का इस्तेमाल चुनाव प्रचार के लिए नहीं किया जा सकता।किसी भी राजनीतिक दल, प्रत्याशी, राजनेता या समर्थकों को रैली करने से पहले पुलिस/प्रशासन से अनुमति लेना अनिवार्य होता है।किसी भी चुनावी रैली में धर्म या जाति के नाम पर वोट नहीं मांगे जाएंगे।

आचार संहिता के उल्लंघन पर कार्रवाई ?

चुनाव आचार संहिता के नियम सख्ती से लागू होते हैं, अगर इन नियमों का उल्लंघन किया जाता है तो उसके लिए सजा का प्रावधान भी है।

कैसे लागू होते हैं प्रतिबंध?

चुनाव आयोग चुनाव की तारीखों के ऐलान से 72 घंटे पहले सरकार से ऐसे कामों की सूची मांग लेता है, जो पहले से चल रहे हैं या अभी तक शुरू नहीं हो पाए हैं।चुनाव आचार संहिता के प्रतिबंध नई योजनाओं के साथ पहले से चल रही योजनाओं और निर्माण कार्यों पर भी लागू होती है। लेकिन जन-उपयोगी योजनाएं, जो पूरी होने की अवस्था में हैं, उन्हें आचार संहिता का बहाना बनाकर बीच में छोड़ा नहीं जा सकता है।जहां काम पूरा हो चुका हो, उसके भुगतान के लिए जरूरी निधि बिना किसी आपत्ति के जारी की जा सकती है।

आचार संहिता के नियमों में हुआ है इस बार बदलाव :-

आयोग इस चुनाव के लिए आचार संहिता में थोड़ा परिवर्तन करने जा रहा है। इसमें यदि कोई सीट चुनाव आचार संहिता क्षेत्र में नहीं, बल्कि सिर्फ विधानसभा क्षेत्र तक सीमित है। वहां यह पूरे जिले में लागू रहेगी।

Laxmi Chaurasia

Recent Posts

नीतीश ने फिर साधा निशाना, कहा- कुछ लोग सेवा नहीं, परिवार के उत्थान के ही विशेष…

नीतीश कुमार ने कहा कि कि मैं चुपचाप दिन-रात काम करता हूं। कुछ लोग सिर्फ…

2 weeks ago

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 : मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी फौजिया राणा भी मैदान में

देश के मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी फौजिया राणा भी अपनी किस्मत आजमाने मैदान…

2 weeks ago

हाईकोर्ट का बड़ा आदेश, चुनाव कार्य के लिए निजी वाहनों की जब्ती पर लगाई रोक, जनता को मिली राहत

बिहार विधानसभा चुनाव कार्य में निजी वाहन की जब्ती में प्रशासन फूंक-फूंककर कदम उठा रहा…

2 weeks ago

कन्हैया कुमार का बड़ा बयान: मेरे भाजपा में शामिल होते ही धुल जाएंगे सारे दाग, खत्म हो जायेगा देशद्रोही होने का आरोप…

जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार को उनकी पार्टी ने स्टार…

2 weeks ago

यूपी के रास्ते बिहार चुनाव में हरियाणा की अवैध शराब कि हो रही है तस्करी, मुख्य सचिव ने दिए निर्देश

केन्द्रीय चुनाव आयोग ने बिहार में हो रहे विधान सभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के…

2 weeks ago