सदानंद सिंह के ‘विश्राम’ का भागलपुर की राजनीति पर क्‍या पड़ेगा असर, बेटे मुकेश को मैदान में उतारा…

बिहार के कांग्रेसी दिग्‍गज 12 चुनाव लड़कर नौ में जीत हासिल करने वाले, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष, मंत्री, विधानसभा अध्यक्ष रह चुके सदानंद सिंह ने राजनीतिक विश्राम ले लिया है।अबकी बार उन्होंने बेटे शुभानंद मुकेश को मैदान में उतारा है। सदानंद सिंह का भागलपुर की राजनीति पर खासा असर है। फिलहाल कांग्रेस के पास इस जिले की सात में से दो सीटें हैं। तीन पर जद यू और दो सीटों पर राजद का कब्‍जा है। सदानंद सिंह की कहलगांव सीट से कांग्रेस ने इस बार उनके पुत्र शुभानंद मुकेश को टिकट दिया है। बकौल शुभानंद पिताजी ने चुनावी विश्राम लिया है, राजनीतिक विश्राम नहीं।

यहाँ बता दें कि पिछले चुनाव में ही सदानंद सिंह ने संकेत दे दिया था कि यह उनका आखिरी चुनाव होगा। कहा जा रहा है कि उम्र को देखते हुए सदानंद सिंह ने खुद को चुनावी राजनीति से दूर कर लिया है। सुल्तानगंज के जदयू विधायक सुबोध राय के बाद सदानंद दूसरे विधायक हैं, जिन्होंने राजनीतिक विश्राम लिया है। संयोग से इन दोनों सीटों पर पहले चरण में चुनाव है। भागलपुर के लोगों की नजरें अब नाथनगर विधायक लक्ष्मीकांत मंडल पर टिकी हैं। बढ़ती उम्र को देखते हुए वह भी विश्राम में जा सकते हैं।

1977 की जनता लहर में भी सिंह ने कहलगांव सीट से जीत दर्ज की थी। इतना ही नहीं पार्टी में विवाद के बाद सिंह ने 1985 में कहलगांव से निर्दलीय चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की। एक बार कांग्रेस के टिकट पर भागलपुर लोकसभा का चुनाव लड़े। हालांकि उन्हें सफलता नहीं मिली। सदानंद सिंह की पहचान बिहार के जमीनी नेताओं में होती है। शुभानंद मुकेश ने बताया कि पिताजी राजनीति में सक्रिय रहेंगे। चुनाव प्रचार भी करेंगे। पार्टी-संगठन को मजबूत करने के लिए काम करते रहेंगे।

कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह का लंबा राजनीतिक सफर रहा है। पहली बार कहलगांव सीट से 1969 में जीत दर्ज कर विधायक बने। 1969 से 2015 तक लगातार 12 बार कहलगांव सीट से चुनाव लड़े और नौ बार जीते। विधानसभा अध्यक्ष के अलावा बिहार सरकार में कई विभागों के मंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। पर पार्टी में अधिक जिम्मेदारी मिलने के चलते जनता में समय नहीं दे पा रहे थे। इसके चलते चुनावी विश्राम लिए हैं।

Laxmi Chaurasia

Recent Posts

नीतीश ने फिर साधा निशाना, कहा- कुछ लोग सेवा नहीं, परिवार के उत्थान के ही विशेष…

नीतीश कुमार ने कहा कि कि मैं चुपचाप दिन-रात काम करता हूं। कुछ लोग सिर्फ…

2 weeks ago

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 : मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी फौजिया राणा भी मैदान में

देश के मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी फौजिया राणा भी अपनी किस्मत आजमाने मैदान…

2 weeks ago

हाईकोर्ट का बड़ा आदेश, चुनाव कार्य के लिए निजी वाहनों की जब्ती पर लगाई रोक, जनता को मिली राहत

बिहार विधानसभा चुनाव कार्य में निजी वाहन की जब्ती में प्रशासन फूंक-फूंककर कदम उठा रहा…

2 weeks ago

कन्हैया कुमार का बड़ा बयान: मेरे भाजपा में शामिल होते ही धुल जाएंगे सारे दाग, खत्म हो जायेगा देशद्रोही होने का आरोप…

जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार को उनकी पार्टी ने स्टार…

2 weeks ago

यूपी के रास्ते बिहार चुनाव में हरियाणा की अवैध शराब कि हो रही है तस्करी, मुख्य सचिव ने दिए निर्देश

केन्द्रीय चुनाव आयोग ने बिहार में हो रहे विधान सभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के…

2 weeks ago